वही दिन वही तारीख ,एक को खोया तो एक को पाया
357194
89
8
|   Apr 25, 2017
वही दिन वही तारीख ,एक को खोया तो एक को पाया

13 सितंबर यह वही दिन ,वही तारीख़ थी जिस दिन मैंने अपनी नन्हीं जान को खोया था वह  भी तब जब वो मेरे गर्भ में  5 महीने रह चुकी थी ,मैंने उसकी हलचल उसकी धड़कन को महसूस करना शुरू कर दिया था ,मैं उससे तन और मन दोनों से जुड़ चुकी थी ,सेकंड अल्ट्रासाउंड कराया तो डॉ ने कहा  बेबी में cleft lip birth defect  है . Abortion कराना ही पड़ेगा . पहले तो कुछ समझ ही नहीं आया  कि यह मेरे क्या हो रहा है फिर डॉ ने सब कुछ समझाया तब भी एक माँ का दिल अपने बच्चे से अलग होने की हिम्मत नहीं जूता पा रहा था .मैंने डॉ से पूछा , “डॉ साहब क्या एबॉर्शन कराना ज़रूरी है ? क्या इसका इलाज नहीं हो सकता ? डॉ ने कहा इलाज तो है पर it's not easy  मैं तो यही कहूँगा कि abortion कराना ही सही होगा ,आगे चलकर आपको बहुत दिक्कतें आएँगी और एक माँ होने के नाते आप वह सब सहन नहीं कर पाएंगी .

आज भी वह दिन याद आता है तो रोंगटे खड़े हो जाते हैं .जब भी अपनी बेटी को अपने सामने देखती हूँ तो उस खोयी नन्ही जान की धड़कन सुनाई देती है,

डॉ के कहे अनुसार दिल पर पत्थर रखकर प्रेगनेंसी के 5वें महीने में नार्मल डिलीवरी के प्रोसीजर से abortion कराया .पूरे 2 दिन लगे थे अपने जिगर के टुकड़े को खुद से अलग करने में .नर्सिंग होम में अपने कमरे में खाली पालना देखकर आँखों से झर झर आंसू बह रहे थे .

     खाली गोद लिए मैं दुखी मन से घर आई .3-4 महीने नन्ही जान को खोने के दुःख में गुजरे .लेकिन एक माँ को अपनी वह चीज़ वापिस चाहिए ही थी जिसे वह खो चुकी थी . मानो उसे खोने की मुझे उसकी भरपाई करने की कोई जिद्द ही थी.

कुछ महीनों बाद दोबारा गर्भ ठहरा .इस दौरान जब भी कोई टेस्ट कराने जाती तो मन ही मन प्रार्थना करती भगवान सब कुछ ठीक हो .डॉ ने expectedएक्सपेक्टेड डिलीवरी की वही डेट दी थी जिस दिन मैंने अपनी नन्ही जान को खुद से जुदा किया था .जैसे तैसे करके प्रेगनेंसी का टाइम निकला .मैं हर पल अपने गर्भ में पल रहे बच्चे की सलामती की दुआ मांगती रहती .

फिर आखिर वह दिन आ ही गया जिस दिन मुझे बेटी उपहार स्वरूप दोबारा वापिस मिली .डॉ ने जब मेरी नन्ही परी को मेरे हाथ में दिया तो सबसे पहले डॉ से मैंने पुछा “ डॉ साहब मेरी बेटी बिलकुल ठीक तो है न ? डॉ साहब डॉ ने मुस्कुराते हुए कहा “बिलकुल आप पर गयी है आपकी नन्ही परी .don’t worry she is absolutely fine & healthy!!

Read More

This article was posted in the below categories. Follow them to read similar posts.
LEAVE A COMMENT
Enter Your Email Address to Receive our Most Popular Blog of the Day