मन के हारे हार है मन के जीते जीत
560856
495
15
|   Jun 28, 2017
मन के हारे हार है मन के जीते जीत

  • रानी सिर्फ नाम से ही नहीं, अपने घर में सचमुच की रानी थी। पढ़ाई में होशियार थी और मम्मी पापा की लाडली भी। छोटी सी उम्र में अच्छी नौकरी ने घर में ही नहीं बल्कि पूरे खानदान में मम्मी पापा का मान बढ़ा दिया था। आफिस में भी सभी तारीफ करते थे। रानी को भी खुद पर गर्व होने लगा। फिर समय की उड़ान के साथ रानी के लिए रिश्ते आने लगे। रानी की बस एक शर्त थी कि उसके लिए जो भी लड़का पसंद करें वह उसके  सपनों के राजकुमार जैसा ही हो। कई लड़कों को देखने के बाद आखिर रानी को राजा मिल ही गया। भोले से चेहरे वाले संजय को देखते ही रानी ने हां कर दी थी। और चट मंगनी पट ब्याह कर रानी ससुराल आ गई। हमारे समाज में माथे पर बिंदी लगते ही मान लिया जाता है कि वह सर्वगुण सम्पन्न हो। उसे सब कुछ आता है। उससे कोई गलती तो हो ही नहीं सकती। रानी को हर रोज़ ही किसी न किसी बात पर डांट दिया जाता था। जब माँ कभी डांटती थी तो रानी बिना खाए आफिस चली जाती थी। मां सारा दिन उदास रहती थी शाम को घर रानी के घर आते ही उसे अपने गले से लगा लेती। उस दिन रानी की पसंद का खाना बनना भी तय होता। ससुराल में भी रानी बिना खाए आफिस चली गई। पर शाम को न किसी ने गले लगाया। न ही किसी ने भी खाने को पूछा। बल्कि सिंक भरकर जूठे बर्तन उसका इंतजार कर रहे थे। रानी रो भी नहीं सकती थी। क्योंकि यहां रोने पर भी मनाही थी। हर बात में गल्ती, हर बात में डांट। धीरे धीरे रानी का आत्मविश्वास कम होने लगा।संजय के प्यार और समर्पण ने उसे आत्महत्या के विचार से भी दूर रखा।  उसे लगता था कि वह कुछ भी नहीं है। उसे कुछ भी नहीं आता। यही बात उसने अपनी सहेली को कही। उसकी सहेली ने उसे 500 रुपये का नोट दिखा कर पूछा कि इसकी क्या कीमत है? रानी ने कहा कि 500 रुपये। फिर सहेली ने नोट को हाथ में नोट मरोड़ कर पूछा तो अब क्या कीमत है।  क्या कीमत कम हुई। नहीं न। तो क्या कुछ लोगों के कहने पर तुम अपनी क्षमता भूल गई। रानी समझ गई कि वह वही मां पापा की लाडली रानी है, जो विपरीत परिस्थितियों से कभी नहीं डरी। आज भी उसे बिना आत्मविश्वास खोए। इस नई जिंदगी में ढलना होगा। बिना डरे बिना हारे। अपने उसी राजकुमार के लिए जिसके लिए वह सब कुछ छोड़कर आई थी। 
  • Please comment if you like it. Thanks in advance. 
  • Read More

    This article was posted in the below categories. Follow them to read similar posts.
    LEAVE A COMMENT
    Enter Your Email Address to Receive our Most Popular Blog of the Day