मायका
189704
1126
11
|   Feb 20, 2017
मायका

मायका ....कितना सुंदर सा शब्द है ! एक ही पल मे मीलों की दूरियां समेट कर ,समय के बंधन को तोड कर हमे पहूँचा देता है बचपन मे !!

बचपन , कहां से शुरू करें ये समझ नहीं आता , है ना ?

माँ की गोद , पापा का दुलार , भाई बहनो से झगड़े.. मनुहार ,दोस्तों के साथ के खेल, स्कूल की शरारते ,कुछ कर गुजरने के सपने ....फिर त्योहारो की बहार ! 

होली पर टेसू के फुलों का रंग , गुलाल और पानी मे भीग भीग कर गुझिया गुलगुले के मज़े | दिवाली पर घर की पुताई और राखी पर तोहफे की लम्बी सी लिस्ट | 

क्या कुछ छोड आये पीछे ....पर ये एक शब्द सब कुछ याद दिला जाता है | अभी कुछ ही दिनो पहले ,मायके से वापसी मे लिखी कुछ लाइने | दोस्तों मे वहाट्साप के ज़रिये शेयर की ,और ये कविता ना जाने कहां कहां घुम आयी 😃😃सोचा आज इसे आपसे भी बांटू , मायका है , ना मेरा,  ना  तुम्हारा , सबका है |हम बदलते हैं पर मायका नहीं बदलता 

रिश्ते पुराने होते हैं  पर मायका पुराना नही होता  जब भी जाओ .....कलश भर कर पानी का  नजर उतारी जाती है  अलाय बलायें टल जाये  यह दुआयें मांगी जाती हैं  यहां वहां बचपन के कतरे बिखरे होते है   कही हंसी कही खुशी कही आंसू सिमटे होते हैं  बचपन की गीलासी ....कटोरी .... खाने का स्वाद बडा देते हैं  अलबम की तस्वीरें  कई किस्से याद दिला देते हैं   गर्मी की  छुट्टियों   के प्यारे से खेल  सर्दियों की मुंगफली और गजक का मेल  माँ के हाथ की कासुन्दी , और दही में डूबते.. रूई के फाहे से बड़े!! जरा सा और खा लो ... वो मीठी सी मनुहार ,और कहना   जा कर पडोस की चाची से मिल लो , वर्ना फिर बीतेगा इक और साल  अचार पापड बड़ीया ....मेवे के लड्डू  पसंद की साडियां और ढ़ेर सा समान.... सामान कितना भी समेटू  कुछ ना कुछ छूट जाता है  सब ध्यान से रख लेना  हीदायत पापा की ....कैसे कहूं सामान तो नही  पर दिल का एक हिस्सा   यहीं  छूट जाता है  आते वक्त  माँ आँचल मेवे से भर देती हैं खुश रहना कह कर अपने आँचल मे भर लेती है .... आ जाती हूं मुस्करा कर मैं भी कुछ ना कुछ छोड कर अपना रिश्ते पुराने होते हैं  जाने क्योँ मायका पुराना  नहीं  होता  उस देहरी को छोडना हर बार ....आसान   नहीं  होता     उस देहरी को छोडना हर बार ....आसान नहीं होता उम्मीद है इसे पढ कर मायका ज़रूर याद आया होगा , फोलो करे और गर्मी की छूट्टीयों की टिकट तुरंत कराये !!😍😊

Read More

This article was posted in the below categories. Follow them to read similar posts.
LEAVE A COMMENT
Enter Your Email Address to Receive our Most Popular Blog of the Day