तेरा अपना घर
64973
62
1199
|   Jul 01, 2017
तेरा अपना घर

सोनम आज कल अपने मायके आइ हुई है काफी तनाव में है और उस तनाव की वजह है उसकी तबियत जिसकी वजह से उसका काफ़ी पैसा ख़र्च हो गया है और घर जा के उसके पति जब इस ख़र्च का हिसाब लेंगे तब क्या होगा? जी आप जैसा सोच रहे है वैसा बिलकुल नहीं है के वो एक हाउस वाइफ़ है और अपने पति पर निर्भर है इसके बिलकुल उलट उसके पति उस पर निर्भर है जो के पूरा दिन घर रहते है, पिछले काफ़ी सालों से घर है और वो ख़ुद एक शहर के एक नामी स्कूल में पढ़ाती है जिसे घर ख़र्चा चलता है ।

सोनम को सुबह स्कूल जाने से पहले बच्चों को तैयार करना होता है उनके लिए टिफ़िन पैक करना, लंच रेडी कर के जाना दोपहर के लिए, घर साफ़ करना, धोने के कपड़े रख के जाना और इन सब कामों में जो काम अक्सर रह जाता है वो है उसका ख़ुद का नाश्ता जो के वो समय की कमी के कारण कभी कर ही नहीं पाती लेकिन अपने पति के लिए रोज़ प्रोटीन शेक बनाना, लो कार्बोहाइड्रेट , लो फ़ैट और हाई प्रोटीन वाला नाश्ता ना बनाने की वो सोच भी नहीं सकती । इतना कुछ करने के बाद भी जब उसके स्कूल की बस आके हॉर्न बजाती है और वो अभी किसी ना किसी काम के लिए भाग रही होती है तब उसके पतिदेव उसे रोज़ एक ही सवाल करते है " आख़िर तुम तैयार क्यूँ नहीं हो पाती हो टाइम से ऐसा क्या करती हो ?" अब तो उसने इस क्यूँ और क्या का जवाब देना भी छोड़ दिया है ।

ऐसा नहीं के उसके पति कुछ भी नहीं करते , करते है ना जिम में जा के पसीना बहाते है, बीवी की कमाई का पूरा हिसाब लेते है उस कमाई से अपने सारे शौक़ पूरे करते है और छोटी छोटी बातों पे लड़ाई करते है, साथ ही मौक़ा मिलते ही हाथ भी उठा देते हैं।

इतना सब कुछ झेलते हुए भी वो अपने पति के साथ रहने को मजबूर है क्यूँकि वही एक सवाल बच्चों को ले के कहा जाऊँगी? यही मेरा अपना घर है क्यूँकि अगर वो मायके वापस जाती है या अलग रहती है कही तो उसके माँ-बाप की क्या इज़्ज़त रह जाएगी और उनका समाज में सर नीचा होगा।

ये कैसी इज़्ज़त है कैसा समाज है जो के एक बेटी को घुट घुट के जीने को मजबूर करता है ? आख़िर हम क्यूँ नहीं कहते बेटियों से "बेटा तेरे सुख में ही नहीं दुःख में भी हम तेरे साथ है , ये घर हमेशा तेरा अपना रहेगा इस घर के दरवाज़े हमेशा तेरे लिए खुले है , हम बस एक आवाज़ की दूरी पर है और ये घर आज भी तेरा अपना घर ही है। ऐसा करने पे कभी कोई बेटी नहीं कहेगी के "अगले जनम मोहे बिटिया ना कीजे।"

Image courtesy: google

Read More

LEAVE A COMMENT
Enter Your Email Address to Receive our Most Popular Blog of the Day