औरत कभी रीटायर नही होती ।
5298
15
2
|   Jun 27, 2017
औरत कभी रीटायर नही होती ।

काव्या अपने मामा मामी के घर कुछ दिनों से रहने आई हुई थी। मामा जी सरकारी नौकरी से सेवानिवृत्त हुए थे। कुछ 8 साल से अपना रिटायरमेंट इंजॉय कर रहे थे। सेहत अच्छी थी,पैसों की कमी नहीं थी, दोनों बेटे अलग-अलग शहरों में अच्छे पद पर कार्यरत थे, तो कोई मानसिक तनाव भी नहीं था। रोज मामाजी सुबह सैर के बाद अखबार की एक-एक पंक्ति पढ़ते हुए दो-तीन चाय के प्याले पीते। 

बाद मे टी.वी देखते या कुछ बैंक के काम करके आते थे।

दिन में गरमा गरम भोजन कर ,2 घंटे तान के नींद निकालते ।

शाम को सीनियर सिटीजन क्लब में हंसी-ठट्ठा कर, बाजार से कुछ सामान लेकर घर आते और इसी तरह मज़े में जिंदगी गुजर रही थी।

 वही मामीजी पूरा दिन घर की देखरेख में लगी रहती थी। 

मामाजी की गर्म चाय से लेकर रात को घर के दरवाजे पर ताला लगाने का काम भी देखती थी।

 काव्या यह सब देख कर सोच में पड़ गई।

 मामा और मामी की उम्र मे कुछ 2 साल का ही अंतर होगा,जहां मामाजी अपना रिटायरमेंट इंजॉय कर रहे थे वही मामी,उनकी धर्मपत्नी आज भी अपने कर्म और धर्म से बंधी -बंधी कोल्हू के बैल सी चले जा रही थी। हमारी सरकार ने एक उम्र तय करी है सेवानिवृत्ति की। पुरुष सेवानिवृत्त हो जाते हैं और अपने हिसाब से जिंदगी जीने लगते हैं, महिलाएं चाहे वर्किंग या होम- मेकर हो, कभी रिटायर नहीं होती ।

उनके गृह कार्य जीवन भर चलते ही रहते हैं।

 आजकल सामाजिक संरचना ऐसी हो चली है कि मां-बाप अकेले ही रहते हैं, बच्चे नौकरी के चलते किसी और शहर में होते हैं, तो अब वह गणित भी फेल होने लगी है, जब लोग कहते थे कि बहुओं के आने के बाद आराम मिलेगा।

 तो क्या औरत कभी रिटायर नहीं होगी?

 महिलाओं को भी एक उम्र के बाद अपने मन से अपने हिसाब से रहने का पूरा पूरा हक है ।

 इसके लिए हमें सबसे पहले सोच बदलनी होगी।

 महिलाएं स्वयम के लिए सुख सुविधाएं जुटाएं ,अपने सेवानिवृत्त पति को घर के कामों में अपना हाथ बटाने को कहें ।अपने लिए एसे कामवाले रखे जो उनका बोझ हलका कर सके।

जिस प्रकार सरकार कर्म क्षेत्र से सेवानिवृत्त होने की उम्र तय करती है ,उसी तरह घर पर रहने वाली महिलाओं कि अपने गृह कार्य से रिटायरमेंट की उम्र भी तय होनी चाहिए ।

उनको भी आराम की जरूरत होती है।

इस बात को किस तरह से अमल में लाना चाहिए यह हम और आप महिलाएं ही तय कर सकती हैं।

अपने रिटायरमेंट को हमे खुद plan करना होगा।

Read More

This article was posted in the below categories. Follow them to read similar posts.
LEAVE A COMMENT
Enter Your Email Address to Receive our Most Popular Blog of the Day