कटे फटे हाथ..🖐✋🤗
21492
14
4
|   Apr 25, 2017
कटे फटे हाथ..🖐✋🤗

Last month अपने बेटे के फेस पे क्रीम लगा रही थी तो उसने कहा....उ..ई...ई.. mom चुभता है। मैंने पूछा क्या चुभता है...???? "आपके हाथ" । क्या....मेरे हाथ....??? मेरे हाथ चुभते हैं...???? एक दम धक्का सा लगा। फिर जब मैंने अपने हाथों को देखा तो सच में मेरी उँगलियाँ के ऊपर वाले हिस्से कटे फ़टे औए छिले हुए थे। अपने फेस पे हाथ घुमा के देखा तो सच में चुभ रहे थे।

यकीन ही नही हुआ कि मेरे हाथ ऐसे हो गए। वही हाथ जिनकी हर कोई तारीफ करता था। कॉलेज टाइम में तो जो मेरे हाथ देखता हैरान हो जाता, इतने सुंदर हाथ...!! गोरे गोरे सॉफ्ट सॉफ्ट, और जब मैं डार्क ब्राउन कलर का नेल पेंट लगा लेती तो क्या कहने। मेरी कुछ फ्रेंड्स भी कहती के कमाल हैं तेरे हाथ, और कुछ थोड़ा जलती भी थी। मेरी सासु माँ ने भी तो तारीफ करी थी के तुमारे हाथ बहुत सुंदर हैं। लगता नही तुमने कभी काम किया होगा। तब मैं ख्याल भी तो रखती थी अपने हाथों का। रेगुलर मैनीक्योर पेडिक्योर करती थी। पर अब नही करती।

फिर मैं अपने बचपन में चली गयी। याद आया मैंने भी अपनी mom से कितनी बार कहा था.....के mom आपके हाथ चुभते हैं। आप क्रीम मत लगाओ। तब बच्चे थे जो मन में आया कह दिया, कभी नही सोचा के mom को कैसा लगता होगा।

Mom काम भी तो कितना करते थे, तब न तो सफाई के लिए maid होती थी सो पुरे घर की सफाई वो खुद ही करते थे। और ना ही वाशिंग मशीन, अपबे हाथों से रगड़ रगड़ के कपड़े धोते थे। ये भी सच है कि उनके हाथ के धुले कपड़े वाशिंग मशीन में धुले कपड़ो से ज्यादा साफ़ होते थे। किचन का पूरा जाम, घर के छोटे बड़े सब काम। ऐसे में उनके हाथों का थोड़ा रफ़ होना सुभाविक था।

हमने कभी उनके हाथों पे क्रीम से मसाज क्र दी तो कितना खुश होते थे मम्मा। कितनी blessings देते हमे। ओह!!! सच में माँ होती ही ऐसी हैं, बहुत ही प्यारी, दयालु, कोमल ह्र्दय वाली। हर छोटी सी बात पे इमोशनल होने वाली।

आज एहसास हो रहा है, हमे भी उनकी केअर करनी चाहिए थी। ऐसा क्यों होता है कि हमेशा देर से ही एहसास होता है....??? तब मन करता है कि वक़्त के पहिए उलटे घुमा के वापिस जाएँ मम्मा के पास, और उनके हाथों पे हर रोज़ मसाज करें और उनके उस प्यार ममता भरे स्पर्श को हमेशा सॉफ्ट सॉफ्ट बनाये रखें। काश......

पर आज कल काम करने के तौर तरीक़े बदल गए हैं। वाशिंग मशीन है maid है। फिर भी मेरे हाथ ऐसे......???? सच है कि किचन में काम करते हाथ चाक़ू से कट जाते हैं। पर मै इतनी भी बिजी नही होती के अपने हाथों का ख्याल नही रख सकती। बात तो बस ध्यान देने की है। आखिर हम लेडीज अपना ख्याल रखने में इतना आलस क्यों करती हैं...???? तभी मैं उठी और अपने हाथों को अच्छे से मसाज किया। अब रोज़ रात को ऐसे करती हूं। अब मेरा बेटा ये नही कहता कि.....mom आपके हाथ चुभते हैं।

आप सब भी अपना, अपने हाथों का, अपनी माँ के हाथों का ख्याल रखें और उस ममता के स्पर्श को हमेशा सॉफ्ट बनाये रखें। थोड़ा ध्यान अपना भी रखें😊😊😊😊

Luv u mom...😄😄

Ashu Goyal Garg

Read More

This article was posted in the below categories. Follow them to read similar posts.
LEAVE A COMMENT
Enter Your Email Address to Receive our Most Popular Blog of the Day