"बहु बेटियां दूर न जाएं ,घर में शौचालय बनवाये " , अरे कोई बेटों को भी बाहर जाने से रोके भाई , सफाई का मामला है |
3873
4
2
|   Jul 09, 2017
"बहु बेटियां दूर न जाएं ,घर में शौचालय बनवाये " , अरे कोई बेटों को भी बाहर जाने से रोके भाई , सफाई का मामला है |

बड़े समय से हम स्वच्छ भारत का सपना साकार करने की कोशिश में हैं | घर घर में शौचालय बनवाना भी उसी की तहत आता है | 2 अक्टूबर 2019 तक खुले में शौच को पूर्णत खत्म करने का सरकार का टारगेट है | जगह जगह हमें स्लोगन पढ़ने को मिल जाते है ,

"माँ घर में घूँघट तेरा साथी ,फिर क्यों शौच खुले में जाती |"

"बहु बेटियां बाहर न जाएं ,घर में शौचालय बनवाएं | "

"जहाँ सोच वहां शौचालय " बहुत ही उम्दा सोच है | पर क्या केवल इसे बहु बेटियों की इज़्ज़त से जोड़ना उचित है | अरे भाई , बहु बेटियों के लिए खुले में शौच जाना अवशय ही बड़ा शर्मनाक है , इसमें कोई दोराई नहीं है | पर घर के मर्द भी तो बाहर शौच जाकर इज़्ज़त नहीं कमा कर लाते हैं न |

यहाँ में मर्द ,औरत या उनमे बराबरी के किसी भी मुद्दे की बात ही नहीं कर रही हूँ| क्योकि यहाँ पर मुद्दा सफाई और स्वछता के साथ सेहतमंद जीवन अपनाने का है | जितना सेहत को खतरा महिलाओं को है , उतना ही खतरा मर्दों को भी है | मैंने बड़े गांव में देखा है , आदमी बड़े गर्व से सर ऊँचा करके कहते है , " टॉयलेट बनवा दिया है , बहु बेटी ,इनकी माँ किसी को बाहर जाने की जरुरत नहीं है अब | और खुद लोटा , बोतल उठा कर निकल जाते है खुले में पेट हल्का करने |

यहीं समझने की जरुरत है यहाँ , ये सिर्फ महिलाओं की इज़्ज़त की सुरक्षा का नहीं बल्कि मर्द ,औरत और बच्चों सबकी ही सेहत की सुरक्षा का मुद्दा भी है | डायरिया , पीलिया , मलेरिया ऐसा कोई रोग नहीं है जो खुले में शौच करने से न फैलता हो | और यही कारण है की आज भी देश में महामारी फ़ैल जाती है |

सरकार कोई सुविधा दे रही है तो उसका लाभ केवल दृश्यगत तौर पर न उठाए , उसको जीवन में अपनाए| उस सुविधा से अपनी जिंदगी को सुखद करें | बीमारी से बचे और अपनों को बचाए |

और विनम्र निवेदन है मेरा , जो लोग समझा सकते है गांव देहात के लोगों को , उनको समझने में हिचकिचाए न | जयादा न सही किसी एक को भी आप समझा पाए तो ये एक बदलाव की शुरुआत करेगा |

#StopOpenDefecation

#BeSafe

#नईपहल

#SocialResponsibility

#PaperlesstypeWriter

Pic Courtesy: TheQuint.com 

Read More

This article was posted in the below categories. Follow them to read similar posts.
LEAVE A COMMENT
Enter Your Email Address to Receive our Most Popular Blog of the Day